Page Navigation - Shayari.tech💘

Top ishq shayari two lines,_Babbu dil k sath gulab bheja hai

ishq

Top ishq shayari two lines,_Babbu dil k sath gulab bheja hai

हमार आज भी लाजवाब है यकीन ना हो तो आईना देख लो धड़कन मेरी बेचैन रहती है आजकल क्योंकि मैं तेरे बगैर धड़कती कम है और तड़पती ज्यादा है

I am still amazing today, if you do not believe, then look at the mirror, my heart is restless nowadays, because without you I have less beating and more suffering.ishq shayari two lines,

 

ishq shayari two lines
ishq shayari two lines

 

जान से ज्यादा चाहते हैं आपको हर खुशी से ज्यादा मानते हैं आपको अगर कोई कहे प्यार की कोई हद होती है तो हद से भी ज्यादा चाहते हैं आपको

You want more than life, believe you more than every happiness, if someone says that there is a limit to love, then you want more than you

 

 

Top ishq shayari two lines,
Top ishq shayari two lines,

 

याद नहीं का यह दौर भी हमको उम्र भर के लिए कितना करते थे हम जिंदगी में किसी शख्स के लिए ऐसा नहीं है कि दिन नहीं ढलता या रात नहीं होती सब अधूरा सा लगता है जब तुम से बात नहीं होतीishq shayari two lines,

This phase of not remembering how much we used to do for a lifetime, it is not for any person in our life that the day does not fall or the night does not happen, it all seems incomplete when you do not talk to you.

 

Top ishq shayari two lines,

 

ishq shayari
ishq shayari

 

पता नहीं कितना प्यार हो गया है तुमसे गुस्सा होने पर भी तुम बहुत याद आती हो दिल करता है चुरा लो तुझे तकदीर से क्योंकि दिल नहीं भरता तेरी तस्वीर सेishq shayari

Do not know how much love has fallen, even when you are angry, you miss a lot, the heart does steal you from your fortune because the heart does not fill with your picture

 

Top ishq shayari two lines,_Babbu dil k sath gulab bheja hai
Top ishq shayari two lines,_Babbu dil k sath gulab bheja hai

 

कहते हैं लोग कि मैं रोया नहीं करता कि कहते हैं लोग कि मैं रोया नहीं करते वह क्या जाने मेरा हर एक का शौक इतना कीमती जो मैं हर किसी पर छाया नहीं करता

People say that I do not cry, say that people do not cry, what does that make me fond of everyone so precious that I do not cast shadow on everyoneishq shayari two lines,

 

छोड़ दी हमने हमेशा के लिए उसकी आरजू करना जिसे मोहब्बत की कदर नहीं उसे दुआओं में क्या मांगना

We left forever to pray for him, who does not appreciate love, what to ask him in prayers,

intezaar shayari,इंतज़ार रहता है हर शाम तेरा शायरी 2020

Intezaar Shayari -Intezaar Shayari 2 Lines

intezaar shayari,इंतज़ार रहता है हर शाम तेरा शायरी 2020

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

हेलो दोस्तों shayari.tech में आपका स्वागत है

इंतज़ार शायरी 2020 -intezaar shayari hindi_dard bhari

intezaar shayari
intezaar shayari

इंतजार रहता है हर शाम तेरा वक्त कटता है लेकर नाम तेरा कब से बैठे हैं इंतजार में तेरे कोई आएगा पैगाम तेरा

रोती हुई आंखों में इंतजार होता है ना चाहते हुए भी प्यार होता है

क्यों देखते हैं हम वो सपने जिनके टूट जाने पर भी सच होने का इंतजार होता है

तेरा इंतजार मुझे हर पल रहता है हर लम्हा मुझे तेरा एहसास रहता है

तुझ बिन धड़कनें रुक सी जाती है क्योंकि तू मेरे दिल में धड़कन बनकर रहता है

इंतजार की आरजू अब खो गई है खामोशियों की आदत सी हो गई है,

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

ना शिकवा रहा ना शिकायत किसी से हमें तो मोहब्बत इन तन्हाइयों से हो गई है बेशक थोड़ा इंतजार मिला हमको पर दुनिया का सबसे हंसी यार मिला हमको

न रही तमन्ना अब किसी जन्नत की तेरी दोस्ती में वो प्यार मिला हमको मत कराओ हमें इंतजार युवक के फैसले पर अफ़सोस हो जाए क्या पता कल तुम लौटकर आओ और हम खामोश हो जाएं

intezaar shayari,कोई वादा नहीं फिर भी तेरा इंतज़ार हे2020

shayari on intezaar,
shayari on intezaar,

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

रात के अंधेरे में तो हर कोई किसी को याद कर लेता है सुबह उठते ही जिसकी याद आए मोहब्बत उसको कहते हैं

निभाना जिसको कहते हैं वह कुछ ही लोगों को आता है बहुत आसान है यह कहना कि मुझे मोहब्बत है तुमसे मुझे किसी के

बदल जाने का गम नहीं बस कोई था जिस पर खुद से ज्यादा भरोसा था झूठी मोहब्बत

वफा के वादे साथ निभाने की कसमें इतना सब किया तुमने सिर्फ मेरे साथ वक्त गुजारने के लिए

हर पल उससे मिलने की चाहत क्यों होती है हर पल उसकी जरूरत क्यों होती है जिसे हम पा नहीं सकते खुदा जाने उसी से मोहब्बत क्यों होती है

किसी को चाहो तो इस अंदाज से चाहो कि वह तुम्हे मिले या ना मिले मगर उसे जब भी प्यार मिले तो तुम याद आओ कोई वादा नहीं फिर भी तेरा इंतजार है

जुदाई के बाद भी तुमसे प्यार है तेरी आंखों की उदासी दे रही है यह गवाही मुझे मिलने को तो अभी बेकरार है हस्ती मिट जाती है

आशियां बनाने में बहुत मुश्किल होती है अपनों को समझाने में एक पल में किसी को भुला मत देना जिंदगी लग जाती है किसी को अपना बनाने में

Intazaar Shayari in Hindi-Love & Sad Intezar

tera intezaar shayari,
tera intezaar shayari,

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

बस यूं ही उम्मीद दिलाते हैं जमाने वाले बस यूं ही उम्मीद दिलाते हैं जमाने वाले कब लौट के आते हैं छोड़कर जाने वाले

यह इंतजार न ठहरा कोई भला ठहरी इंतजार में ठहरा कोई बला ठहरी किसी की जान गई आपकी अदा ठहरी

उसकी जरूरत उसका इंतजार और अकेलापन थक मुस्कुरा देता हूं जब रो नहीं पाता इंतजार तो बस उस दिन का है जिस दिन तुम्हारे नाम के पीछे हमारा नाम लगेगा

दिल जलाओ या जिए आंखों के दरवाजे पर वक्त से पहले तो आती नहीं आने वाली,tera intezaar shayari

किश्तों में खुदकुशी कर रही है यह जिंदगी इंतजार तेरा मुझे पूरा मरने भी नहीं देता

चले भी आओ तसव्वुर में मेहरबा बनकर अब इंतजार तेरा दिल को हद से ज्यादा है किन लफ्जों में लिखूं मैं अपने इंतजार को तुम्हें बेजुबा है

मेरा ढूंढता है ख्वाबों से तुझे हमने तो उस शहर में भी किया है इंतजार तेरा

जहां मोहब्बत का कोई रिवाज ना था इसकी दर्द ही कुछ ऐसे लोग जान दे देते हैं मगर इंतजार नहीं करते

Intezaar💔Very sad heart touching shayari

IntezaarVery sad heart touching shayari
IntezaarVery sad heart touching shayari

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

चाहत पर अब ऐतबार ना रहा खुशी क्या है ना रहा देखा है ना कोने टूटते सपने को इसीलिए अब किसी का इंतजार ना रहा क्या कसूर था मेरा जो तुम खफा हो गए इतनी मोहब्बत की है तुमसे फिर भी तुम बेवफा हो गए

मैं रोता रहा रात भर मगर यह फैसला ना करने का याद आ रही थी मुझे या मैं याद कर रहा था तुझे कसूर तो बहुत किए हैं जिंदगी में सजा वहां मिली जहां बेकसूर थे हम

अगर दुश्मन भी मिले राह में कभी तो उसको भी हार गले लगा लो ऐ मौत जरा ठहर जा जरा सा रुक जा तू इंतजार है उनका जिन की अमानत है जिंदगी जरा उन से रुखसत ले लेने दे फिर ले चलना

जरा उन से रुखसत ले लेने दे फिर ले चलना यह जरूरी है उन्हीं की बदौलत है जिंदगी दोस्त आपको हमसे भी अच्छे मिल जाएंगे आप हमको दोस्त बना कर क्या करोगे दोस्त आपको हमसे भी अच्छे

मिल जाएंगे आप हमको दोस्त बना कर क्या करोगे आप का तो इंतजार कर रही हैं खुशियां आप सागर के गमो को अपना बना कर क्या करोगे,tera intezaar shayari

shayari on intezaar,आगे इंतजार कर रही है महबूबा मौत मेरी।।इंतजार शायरी हिंदी में

shayari on intezaar,
shayari on intezaar,

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

बहुत हो चुका इंतजार में उनका अब और जख्म सहे जाते नहीं बहुत हो चुका इंतजार उनका अब और जख्म शहजादे नहीं क्या बयां करें उनके सितम को दर्द उनके कह जाते नहीं भले ही राहे चल

तू का दामन थाम ले मगर मेरे प्यार को भी तू पहचान ले कितना इंतजार किया है तेरे इश्क में कितना इंतजार किया है तेरे इश्क में जरा यह दिल की बात भी तो जाने

कितने सपने दिल में सजाई तेरे लिए राहों में फूल बिछा यह तेरे लिए कितने सपने दिल में सजाई तेरे लिए राहों में फूल बिछा दे तेरे

लिए आती है कोई याद तेरी चुपके से हर दस्तक पर बाहर आया तेरे लिए जिंदगी से सभी को मोहब्बत है पर जिंदगी किसी की मोहब्बत नहीं

बन तमन्ना लेकर जीते हैं सब लोग तमन्ना लेकर जीते हैं सब लोग मगर हर तमन्ना तकदीर नहीं बनती जिंदगी हसीन है जिंदगी से प्यार करो जिंदगी हसीन है जिंदगी से प्यार करो है रात तो सुबह का इंतजार करो,tera intezaar shayari

पल भी आएगा जिसका इंतजार है आपको रब पर भरोसा करो और वक्त पर एतबार रखो जुबा अगर आंखों की समझो तो यह सब कुछ

कह जाते हैं यार सुबह अगर आंखों की समझो तो यह सब कुछ कह जाते हैं यारों दिल के बोझ को करते हैं हल्का खुद सबके गम सह

जाते हैं यारों रूठ जाए अगर तो कोई मना लो टूटने ना तो घर अपना बसा लो रूठ जाए अगर कोई तो मना लो टूटने ना दो घर अपना बस

आपके इंतजार पर बेहतरीन शायरी हिंदी में aapke Intezar per behtarin shayari 

aapke Intezar per behtarin shayari ,tera intezaar shayari
aapke Intezar per behtarin shayari,tera intezaar shayari

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

क्या चाहूं रब से तुम्हें पाने के बाद अरे क्या चाहूं रब से तुम्हें पाने के बाद किसका करूं इंतजार तेरे आने के बाद अरे किसका करो इंतजार तेरे आने के बाद क्यों मोहब्बत में जान लुटा देते हैं लोग

अरे क्यों मोहब्बत में जान लुटा देते हैं लोग मैंने भी यह जाना इश्क करने के बाद मैंने भी यह जाना इस करने के बाद उनका भी कभी हम दीदार करते हैं,shayari on intezaar,tera intezaar shayari

अरे उनका भी हम कभी दीदार करते हैं उनसे भी कभी हम प्यार करते हैं उनसे भी कभी हम प्यार करते हैं क्या करें जो उनको हमारी जरूरत नहीं थी अरे क्या करें जो उनको हमारी जरूरत नहीं

थी पर फिर भी हम उनका इंतजार करते हैं पर फिर भी हम उनका इंतजार करते हैं

तड़प के देखो किसी की चाहत में अरे तड़प के देखो किसी की चाहत में तो पता चले कि इंतजार क्या होता है तो पता चले कि

इंतजार क्या होता है यूं ही मिल जाए अगर कोई बिना तड़पे यूं ही मिल जाए अगर कोई बिना तड़पे तो कैसे पता चले कि प्यार क्या होता है तो कैसे पता चले कि प्यार क्या होता है,shayari on intezaar

intezaar shayari, इंतजार के लम्हे शायरी तेरा इंतज़ार शायरी इन हिंदी फॉर गर्लफ्रेंड एंड बॉयफ्रेंड

intezaar shayari, इंतजार के लम्हे शायरी तेरा इंतज़ार शायरी इन हिंदी फॉर गर्लफ्रेंड एंड बॉयफ्रेंडshayari on intezaar
intezaar shayari, इंतजार के लम्हे शायरी तेरा shayari on intezaarइंतज़ार शायरी इन हिंदी फॉर गर्लफ्रेंड एंड बॉयफ्रेंड

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

उनसे मिलने को तरसे है आंखे तरस तरस कर भर्ती है आंखें बरस बरस कर जब थक जाती है आंखें तो फिर से मिलने को तरसती हैं आंखें जाम है बुझी बुझी वक्त है खफा खफा कुछ हंसी यादें हैं कुछ

भरी थी आंखें हैं कह रही है मेरी यह तरसती नजर अब तो आ जाइए अब ना तड़पा यह हम ठहर भी जाएंगे राहे जिंदगी में तुम जो पास आने का इशारा करो मुंह को फेरे हुए मेरे

तकदीर से यूं ना चले जाए अब तो आ जाइए आपकी जुदाई भी हमें प्यार करती है आपकी यादें भी हमें बेकरार करती है,shayari on intezaar

आते जाते यूं ही हो जाए मुलाकात आपसे तलाश आपको यह नजर बार-बार करती है मेरी निगाह में फिर कोई दूसरा चेहरा नहीं आया भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का

इंतज़ार शायरी_Intezaar Shayari -Intezaar Shayari 2 Lines

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

पलकों पर रुका है समंदर कुमार का पलकों पर रुका है समंदर खुमार का कितना अजब नशा है तेरे इंतजार का

उनकी मर्जी हो तो बात करते हैं और एक हम हैं उनकी मर्जी हो तो बात करते हैं और एक हम हैं जो हर वक्त उनकी मर्जी का इंतजार करते हैं,shayari on intezaar

उम्र दराज मांग कर लाए थे 4 दिन उम्र दराज मांग कर लाए थे 4 दिन दो आरजू में कट गए दो इंतजार में

कोई मिलता ही नहीं हमसे हमारा बनकर कोई मिलता ही नहीं हमसे हमारा बनकर वह मिले भी तो एक किनारा बनकर हर ख्वाब टूट के बिखरा कांच की तरह इंतजार है सात सहारा बनकर

कुछ बातें करके वह हमें रुला कर चले गए कुछ बातें करके वह हमें रुला कर चले गए हम ना भूलेंगे यह एहसास दिला कर चले गए

आएंगे कब हो अब तो यह देखना है उम्र भर बुझ रही है आप जिसे वह चला कर चले गए,intezaar shayari,

एक आरजू है अगर पूरी परवरदिगार करें एक आरजू है अगर पूरी परवरदिगार करें मैं देर से जाऊं और वह मेरा इंतजार करें

तेरे इंतजार में कब से उदास बैठे हैं तेरे इंतजार में कब से उदास बैठे हैं तेरे दीदार में आंखे बिछाए बैठे हैं तू एक नजर हम को देख ले इस आस में कब से बेकरार बैठे हैं,intezaar shayari,

आंखें भी मेरी पलकों से सवाल करती हैं आंखें भी मेरी पलकों से सवाल करती है हर वक्त आपको ही बस याद करती हैं जब तक ना कर ले दीदार आपका तब तक वो आपका इंतजार करती है

गजब किया तेरे वादे पर ऐतबार किया गजब किया तेरे वादे पर ऐतबार किया तमाम रात किया कयामत का इंतजार किया

 इंतज़ार शायरी-Shayari -Intezaar Shayari in Hindi for Girlfriend and Boyfriend

intezaar shayari,

shayari on intezaar,

tera intezaar shayari,

किसी नजर को तेरा इंतजार आज भी है कहां हो तुम कि यह दिल

बेकरार आज भी है वह वादियां यह फिजाएं कि हम मिले थे जहां मेरी वफा का वहीं पर मजार आज भी है

किसी नजर को तेरा इंतजार आज भी है

एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यों है इंकार करने पर चाहत का इकरार क्यों है उसे पाना नहीं मेरी तकदीर में शायद फिर भी हर मोड़ पर उसका इंतजार क्यों है

birthday shayari for lover

love shayari for husband 

non veg shayari:kuwari ladkio ki shayari,

emotional shayari