hindi shayari dosti love

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad|naduya

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki shayari

hindi shayari dosti love
hindi shayari dosti love

ना दुआ #माँगी ना कोई #गुज़ारिश की… ना कोई फरियाद ना# कोई नुमाइश क जब भी झुका सर “महादेव” के आगे हमने ए – दोस्त बस “तेरी” खुशी की ख्वाइस की,

#आप हमें रुलादो हमें गम नहीं, आप हमें भुलादो हमें कोई गम नहीं, #जिस दिन हमने आप को भुला दिया, समझ लेना इस दुनिया में हम नहीं |

dosti shayari in hindi 
dosti shayari in hindi

बेपरवाह हो जाते है अक्सर वो लोग, जिन्हे कोई बहुत प्यार करने लगता है इश्क लिखना चाहा तो कलम भी टूट गयी ये कहकर,

अगर लिखने से इश्क मिलता तो आज इश्क से जुदा होकर कोई टूटा नही होता!

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki shayari

hindi shayari dosti loveshayari Dosti ki yaaddosti ki shayari
hindi shayari dosti loveshayari Dosti ki yaaddosti ki shayari

न जाहिर हुई तुमसे और न ही बयान हुई हमसे।hindi shayari dosti love
❤बस सुलझी हुई आँखो में उलझी रही मोहब्बत।

बैठ जाता हूं अक्सर मिट्टी पर, क्योंकि मुझे अपनी औकात अच्छी लगती, राष्ट्र बहता में मेरी रगो में, और इसकी मिट्टी की खुशबू मुझे भाती है।

जज्बात कहते हैं, ❤खामोशी से बसर हो जाएँ, दर्द की ज़िद हैं कि दुनिया को खबर हो जाएँ

मेरे हर ख्वाब में तो हो, मगर मेरे नही हो तुम, तुम्हे लगता है कि मेरे हो, मगर मेरे नही हो तुम, यकीं कितना भी दिलवाऊ , मगर मेरे नही हो तुम

#वो मोहब्बत हमसे.. #कुछ इस तरह से करते है #बात नहीं# करते हमसे … मगर मेरी शायरी का इंतजार करते है..

जख्म जब मेरे सीने में भर जाएंगे आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएंगे
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया वरना कुछ अपनों के चेहरे उतर जाएंगे !

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki shayari

अब शिकायते तुमसे नहीं खुद से है माना कि सारे झूठ तेरे थे लेकिन उन पर यकीन तो मेरा था !

तकलीफ ये नहीं कि किश्मत ने मुझे धोखा दिया ! ♡तकलीफ तो ये है मेरा यकीन तुम पे था

✌ना दुआ माँगी ना कोई गुज़ारिश क ना कोई फरियाद ना कोई नुमाइश की… जब भी झुका सर “महादेव” के आगे हमने ए – दोस्त बस “तेरी” खुशी कि ख्वाइस की,

मक़ाम जिसका फ़रिश्तों से भी ज़ियादा था, हमारी ज़ात में वो आदमी बहुत कम है।hindi shayari dosti love

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki shayari

hindi shayari dosti love
hindi shayari dosti love

क्या खूब क़त्ल का तरीका तूने इज़ात किया, मर जाऊं हिचकियों से ही इस कदर तूने याद किया।

ना किसी जिगर की तलाश है ना किसी के दर की तलाश है, मेरे दिल का हाल जो जान ले मुझे उस नज़र की तलाश है।

तेरे नखरों से बेहतर तो गणित की किताब थी, देर से ही सही कुछ समझ तो आता था।hindi shayari dosti love

शायरी हमारा शौक नहीं है ज़नाब, ये तो मोहब्बत में मिली सजाएं हैं।

थकान शाम को अपना घर मांगती है, ओर ज़िन्दगी रोज नया सफर मांगती है।

मोहब्बत के नशे में जब आदमी चूर होता है, उसे मेहबूब का हर फैसला मंजूर होता है।

कभी हंसने की कभी रुलाने की अच्छी ❤आदत है यह जमाने की मेरे इस दिल को तो रोना भी नहीं आता तुम्ही कोई सूरत करो इसे रुलाने की।

हम दोस्ती का फर्ज यू हीं निभाते रहेंगे वक्त बेवक्त आपको सताते रहेंगे।

दुआ करो उम्र लंबी हो हमारी वरना याद बनकर जिंदगी भर रुलाते रहेंगे।hindi shayari dosti love

किस्मत रुक गयी दिल के तार रुक गये वो भी रूठ गये सपने भी टूट गये खजाने में थे सिर्फ दो आंसू जब याद आयी आपकी तो वो भी लुट गये।

shayari Dosti ki yaad,यादों में ना ढूंढो हमें

shayari Dosti ki yaad,यादों में ना ढूंढो हमें
shayari Dosti ki yaad,यादों में ना ढूंढो हमें

यादों में ना ढूंढो हमें मन में हम बस जायेंगे तमन्ना हो अगर मिलने की तो हाथ रखो सीने में हम धड़कनों में मिल जायेंगे।

तेरी याद में आंसुओं का संमुन्दर बना लिया तन्हाई के शहर में अपना घर बना लिया

सुना है लोग पूजते हैं पत्थर को इस लिये दिल अपना पत्थर बना लिया।hindi shayari dosti love

न करते शिकायत जमाने से कोई अगर मनाने से मान जाता कोई किसी को क्यों याद करता कोई अगर भुलाने से भूल जाता कोई।

ना ख्वाबों में देखा, न नजरों में देखा हजारों में हमने एक तुम्ही को देखा गम देने वाले तो हर पल हैं यहां हर पल #खुशी देने वालों में# एक आपको ही देखा।

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki shayari

#हर अश्क (आंसू) का #मतलब गम नहीं होता,# दूरियों से प्यार #कम नहीं होता, वक्त बेवक्त हो जाती हैं आंखें नम क्योंकि यादों का कोई मौसम नहीं होता।

#नाकाम सी कोशिश करते हैं.हम उनसे उल्फत किया करते हैं तकदीर में इक टूटा तारा नहीं लिखा
#और एक हम हैं कि चांद की आरजू किया करते हैं

जितना तुमको चाहा था हमने उतना किसी को चाह न सके सोचा था भूल जायेंगे कभी न कभी, लेकिन न जाने क्यों भुला न सके
होंठों ने तो छुपा लिये अरमान दिल के लेकिन आंखों से छुपा न सके।

किसी को याद करना , किसी को याद आना, यह भी नसीब नसीब में होता है.hindi shayari dosti love
दिल उन्ही को याद करता है जो दिल के बहुत करीब होता है.

चाहत है किसी की चाहत को पाने की, चाहत है चाहत को आजमाने की.
वो चाहे हमें-चाहे न चाहे,पर हमारी चाहत है उनकी चाहत में मिट जाने की.

hindi shayari dosti loveखूबसूरत है ये हंसी तुम्हारी

खूबसूरत है ये हंसी तुम्हारी, बना दीजिये इन्हें किस्मत हमारी .
उसे और क्या चाहिए जीने क लिए, जिन्हें मिली हो दुनिया में दोस्ती तुम्हारी.

¶¶बर्दाश्त करो तो कमजोर, सामना करो तो बदतमीजी।

¶¶ बेवजह हम वजह ढूंढ़ते हैं तेरे पास आने को ये दिल बेकरार है तुझे धड़कन में बसाने को, बुझती नहीं है #प्यास मेरे इस प्यासे दिल #की न जाने कब मिलेगा सुकून# तेरे इस दीवाने को।

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki shayari

¶¶ दिल की आवाज़ को इज़हार कहते हैं झुकी हुयी निगाह को इकरार कहते हैं, सिर्फ पाने का नाम ही इश्क नहीं कुछ खोने को भी प्यार कहते हैं।hindi shayari dosti love

¶¶ जिंदगी के सफर में अच्छा और बेहतर बनने के लिए हर दुख को चुपचाप सहना पड़ता है, सुकून भरी जिंदगी जीने के लिए वक्त के साए पर हमेशा सुख-दुख में ढलकर रहना पड़ता है।

घमंड में रहने वाले लोग, हमसे दूर रहे तो अच्छा है।

¶¶कौन कहता है संवरने से बढ़ती है खूबसूरती, दिलों में चाहत हो तो चेहरे यूँ ही निखर आते है,जरूरी नहीं की हर बात पर तुम मेरा कहा मानों, दहलीज पर रख दी है चाहत, आगे तुम जानो।

¶¶न चांद होगा ना तारे होंगे, क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे , इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए ,# क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे।

dosti ki shayari,सर्दी में चाय सी है तुम्हारी याद

¶¶सर्दी में चाय सी है तुम्हारी याद, जितनी भी मिले कम ही लगती है।hindi shayari dosti love

¶¶थोड़ा सा शौक़ है हमारा शायरी करना, किसी की दुखती रग छू लूँ तो माफ़ करना।

¶¶कुछ लोग मेरी शायरी को #यूँ छूकर चले जाते हैं, जैसे रुक गए तो मरीजे इश्क हो ज़ायेंगे।

¶¶हरा ही रहता है ये दिसंबर हर पल, जख़्म हरा यादें हरी और मौसम भी हरा।

¶¶कुछ तो वजह हैं जो तुम उदास हो, यूं बेवजह गुलाब मुरझाया नहीं करते ।

¶¶वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए, वो खुशी ही क्या जो होठों पर रह जाए।

hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki shayari

¶¶कभी तो समझो मेरी खामोशी को, वो बात ही क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जायें,

आज फिर वो हसीन रात हो जाए , निगाहों-#निगाहों में बात हो जाए।hindi shayari dosti love

¶¶#हम खामोशी से देखते रहे तुम को,# ओर तुम्हारे होंठो की सुर्खियां हमारे होंठो के साथ हो जाए।

¶¶#लगता है मैं भूल चुका हूँ मुस्कुराने का हुनर, कोशिश जब भी करता हूँ आँसू निकल आते हैं।

1..sad shayari two lines|sad shayari on Zindagi in Hindi sad shayari for love

1.Hindi shayari dost ke liye: Itna khobsurat Chehra hai dosti shayari in Hindi

3.Miss You Shayari 

4.photos of love 

Read more Fastest motorbikes

Please follow and like us:
hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad|naduya 1

Leave a Comment