shayari|mohabbat shayari|hindi shayari:dill bar 💘

shayari|mohabbat shayari|hindi shayari:dill bar 💘

shayarimohabbat shayari
shayarimohabbat shayari

1.क्या मिला उस बेवफा को हमसे नाता तोड़ कर, आज खुद भी तन्हा है हमको तन्हा छोड़ कर।

kya mila us bevafha ko hamse nata tod kar, aaj khud bhee tanha hai hamko tanha chhod kar.

 

2.ख़्वाब टूटे थे के आँखों में सितारे नाचे, सब को दामन के अँधेरे में उतर जाना

था।khvaab toote the ke aankhon mein sitaare naache, sab ko daaman ke andhere mein utar jaana tha.hindi shayari

 

3#खुद की हालत का मुझे एहसास #नहीं होता, आंखे तब #बरसती हैं जब कोई

पास नहीं होता, #दिल से चाहने #वाले ही दिल तोड़ देते है, बस इसी बात #का विश्वास नहीं होता।

 

khud kee haalat ka mujhe ehasaas #nahin hota, aankhe tab

#barasatee hain jab koee paas nahin hota, #dil se chaahane #vaale

hee dil tod dete hai, bas isee baat #ka vishvaas nahin hota.

 

4.अल्फ़ाज़ पढ़ने के# लिए आँखें ज़रूरीहैं, और# अहसास पढ़ने के लिए दिल ज़रूरी

है  alfaaz padhane ke# lie aankhen zarooreehain, aur# ahasaas

padhane ke lie dil zarooree hai mohabbat shayari

 

5.हम से भी अच्छा कोई दोस्त बना कर देखना, एक बार तुम ज़रा ये आज़मा कर

देखना, फिर हम दोनों की दोस्ती में फर्क तू देखना, फिर एक बार हमारी यादों में खो कर देखना।shayari

 

ham se bhee achchha koi dost bana kar dekhana, ek baar tum zara

ye aazama kar dekhana, phir ham donon kee dostee mein phark too

dekhana, phir ek baar hamaaree yaadon mein kho kar dekhana.

 

6.हमसे पूछो क्या होता है पल पल बिताना,बहुत मुश्किल होता है दिल को

समझाना, यार जिंदगी तो बीत जाएगी लेकिन,बहुत मुश्किल होता है किसी को भूल पाना।

 

shayari|mohabbat shayari|hindi shayari:dill bar 💘

shayarimohabbat shayarihindi shayaridill
shayarimohabbat shayarihindi shayaridill

hamase poochho kya hota hai pal pal bitaana,bahut mushkil hota

hai dil ko samajhaana, yaar jindagee to beet jaegee

lekin,bahut mushkil hota hai kisee ko bhool paana. mohabbat shayari

 

7.तूने मांगा भी तो अपनी जुदाई मांगी और हम थे कि तुझे इंकार न कर सके।

toone maanga bhee to apanee judaee maangee aur ham the ki tujhe inkaar na kar sake.

 

8.देखो ये निकल आया है चाँद और निकल आये है ये चमकते सितारे।

 

dekho ye nikal aaya hai chaand aur nikal aaye hai ye

chamakate sitaare.mohabbat shayari

 

9.आखिरी बार तेरे प्यार को सजदा कर लूं,लौट के फिर तेरी महफ़िल में नहीं आऊंगा।

 

aakhiree baar tere pyaar ko sajada kar loon,laut ke

phir teree mahafil mein nahin aaoonga. hindi shayari

 

10.💭अपनी बर्बाद मोहब्बत का# जनाज़ा ले कर,तेरी दुनिया# से बहुत दूर चला जाऊंगा।

apanee barbaad mohabbat ka janaaza le kar,teree duniya se bahut door chala jaoonga.

 

11.💖माँ की अजमत से 💙अच्छा जाम क्या होगा, माँ की खिदमत से अच्छा काम क्या होगा,💕खुदा ने रख दी हो जिस के कदमों में जन्नत, सोचो उसके सर का मुकाम क्या होगा।

 

maan kee ajamat se achchha jaam kya hoga, maan kee

khidamat se achchha kaam kya hoga, khuda ne rakh

dee ho jis ke kadamon mein jannat, socho usake sar ka mukaam kya hoga.

 

hindi shayariकोई दुआ असर नहीं करती

hindi shayari
hindi shayari

12.💚कोई दुआ असर नहीं करती💗, जब तक वो हम पर नजर नहीं करती,💔हम उसकी खबर रखे न रखे, वो कभी हमें बेखबर नहीं करती।

 

koee dua asar nahin karatee, jab tak vo ham par najar

nahin karatee,ham usakee khabar rakhe na rakhe, vo

kabhee hamen bekhabar nahin karatee.

 

13.💘यूं ही नहीं गूंजती किलकारियां‬ घर #आँगन‬ के कोने में, जान ‎हथेली‬ पर रखनी‪ पड़ती है “माँ” को “‪माँ‬” होने में। mohabbat shayari

 

yoon hee nahin goonjatee kilakaariyaan‬ ghar #aangan

‬ ke kone mein, jaan ‎hathelee‬ par rakhanee‪ padatee hai “maan” ko “‪maan‬” hone mein.

 

14.💖जब जब कागज पर लिखा, मैने #”माँ” का नाम, कलम अदब से बोल उठी, हो गये चारो धाम। hindi shayari

jab jab kaagaj par likha, maine #”maan” ka naam,

kalam adab se bol uthee, ho gaye chaaro dhaam.

 

15.💚वो दिन दिन नहीं😀, वो रात रात नहीं, वो पल पल नहीं,😙 जिस पल तेरी याद नहीं, #तेरी यादों से मौत हमे अलग कर सके, मौत की भी ये औकात नहीं।

 

vo din din nahin😀, vo raat raat nahin, vo pal pal

nahin,😙 jis pal teree yaad nahin, #teree yaadon se

maut hame alag kar sake, maut kee bhee ye aukaat nahin

 

16.💕हमारी हर खता पे नाराज़ न होना#, अपनी प्यारी सी

मुस्कराहट को कभी न खोना, सुकून मिलता है देख कर आपकी

मुस्कराहट,# हमे मौत भी आये तो भी मत रोना। mohabbat shayari

 

💕hamarihar khata pe naaraaz na hona#, apanee

pyaaree see muskaraahat ko kabhee na khona, sukoon

milata hai dekh kar aapakee muskaraahat,# hame

maut bhee aaye to bhee mat rona

 

shayariमौत से कह दो की हम से नाराज़गी खत्म कर ले

shayari
shayari

17.💜मौत से कह दो की हम से नाराज़गी खत्म कर ले# अब, #वह भी बहुत बदल गए हैं जिनके लिए जिया करते थे हम।

 

maut se kah do kee ham se naaraazagee khatm kar le#

ab, #vah bhee bahut badal gae hain jinake lie jiya karate the ham.

 

18.👫आशिक़ मरते नहीं सिर्फ दफनाए #जाते हैं, कब्र खोद कर# देखो इंतज़ार में पाए जाते हैं।

 

aashiq marate nahin sirph daphanae #jaate hain, kabr

khod kar# dekho intazaar mein pae jaate hain.

 

19.💏इंतज़ार है हमें तो बस अपनी मौत का,# उनका वादा# है कि उस दिन मुलाकात होगी। mohabbat shayari

 

intazaar hai hamen to bas apanee maut ka,# unaka

vaada# hai ki us din mulaakaat hogee.

 

20.पलकें खुली सुबह तो यह जाना हमने, मौत ने आज फिर से

हमें ज़िन्दगी के हवाले कर दिया। hindi shayari

 

palaken khulee subah to yah jaana hamane, maut ne

aaj phir se hamen zindagee ke havaale kar diya

21.लोग कहते हैं कि लड़कियां ज़िन्दगी होती हैं मौत नहीं, मगर वह क्या जाने की ढोका भी ज़िन्दगी देती है मौत नहीं।

 

log kahate hain ki ladakiyaan zindagee hotee hain

maut nahin, magar vah kya jaane kee dhoka bhee

zindagee detee hai maut nahin.

 

22.💝रुखसत हुए तेरी गली से हम आज कुछ# इस कदर,# लोगो के मुह पे राम नाम था और मेरे दिल में बस तेरा नाम।

 

rukhasat hue teree galee se ham aaj kuchh# is kadar,# logo ke muh pe raam naam tha aur mere dil mein bas tera naam.

 

mohabbat shayariकितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता

 

mohabbat shayariकितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता
mohabbat shayariकितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता

 

23.💬कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता, #किसी की

बर्बादी का किस्सा सुनाया नहीं जाता,#एक बार जी भर के# देख

लो इस चहेरे को,# क्योंकि बार-बार कफ़न मुहं से उठाया नहीं जाता।

 

.💬kitana dard hai dil mein dikhaaya nahin jaata, #kisee kee

3barbaadee ka kissa sunaaya nahin jaata,#ek baar jee bhar ke# dekh

lo is chahere ko,# kyonki baar-baar kafan muhan se

uthaaya nahin jaata.mohabbat shayari

 

24.न मेरी कोई मंज़िल है न किनारा, तन्हाई मेरी महफ़िल और

यादें मेरा सहारा, तुम से बिछड़कर के

👤कुछ यूँ वक़्त गुज़ारा, कभी ज़िन्दगी को# तरसे कभी मौत# को पुकारा।

 

na meree koee manzil hai na kinaara, tanhaee meree mahafil aur yaaden mera sahaara, tum se bichhadakar ke

 

25.💫इस आस में चला जाऊंगा #मैं ये जहाँ छोड़ कर,

#के शायद मेरा मरना #ही कुछ काम आएगा, शायद चली आये तू उस पल मेरे

पास दौड़कर, जिस पल तेरे पास #मेरी मौत का# पैगाम आएगा।

 

👤kuchh yoon vaqt guzaara, kabhee zindagee ko# tarase kabhee maut# ko pukaara

💫is aas mein chala jaoonga #main ye jahaan chhod kar,

 

26.💗मौत मांगते हैं तो ज़िन्दगी खफा हो# जाती है, ज़ेहर लाते हैं

तो वो भी दवा हो जाता है, #तू ही बता ए #मेरे दोस्त क्या करूँ,

#जिसको भी चाहते हैं वो बेवफा हो जाता है। hindi shayari

 

ke shaayad mera marana hee kuchh kaam aaega,

shaayad chalee aaye too us pal mere paas daudakar, jis

pal tere paas meree maut ka paigaam aaega.

 

hindi shayariकिस्मत ने बार-बार बचाया

27.किस्मत ने बार-बार बचाया हूँ मैं, मौत के मुंह से भी वापस लौट आया हूँ मैं, क्यों की हम पर इतनी रहमत ऐ खुदा, पहले ही उनकी रहमत का सताया हूँ मैं।

 

kismat ne baar-baar bachaaya hoon main, maut ke munh se bhee

vaapas laut aaya hoon main, kyon kee ham par itanee rahamat ai

khuda, pahale hee unakee rahamat ka sataaya hoon main.

 

28.आज उसने अपनी अलग दुनिया बसाई है, मेरी ज़िन्दगी भी मौत से जीतती आयी

29.है, जितना तोडना चाहता हूँ ज़िन्दगी के तार मैं, उतना ही खुदा ने मेरी उम्र बड़ाई है।hindi shayari

 

aaj usane apanee alag duniya basaee hai, meree zindagee bhee

maut se jeetatee aayee hai, jitana todana chaahata

hoon zindagee ke taar main, utana hee khuda ne

meree umr badaee hai.

 

30.सांसें रुक जाती हैं जब मौत आती है, सांसें ही मगर मौत का एहसास क्यों है।

saansen ruk jaatee hain jab maut aatee hai, saansen

hee magar maut ka ehasaas kyon hai.mohabbat shayari

 

31.👦ज़िंदगी से तो ख़ैर शिकवा था, मुद्दतों तो मौत ने भी तरसाया।

zindagee se to khair shikava tha, muddaton to maut nebhee tarasaaya.

 

shayariमैंने अपनी मौत की अफवाह उड़ाई थी

 

shayariमैंने अपनी मौत की अफवाह उड़ाई थी
shayariमैंने अपनी मौत की अफवाह उड़ाई थी

32.मैंने अपनी मौत की अफवाह उड़ाई थी,# दुश्मन भी कह उठे…आदमी अच्छा था।

 

mainne apanee maut kee aphavaah udaee thee,#

dushman bhee kah uthe…aadamee achchha tha

33.मौत को तो यूँ ही बदनाम करते हैं लोग, तकलीफ तो हमें ज़िन्दगी देती है…।

 

maut ko to yoon hee badanaam karate hain log,

takaleeph to hamen zindagee detee hai

34.मेरी हर खता पे नाराज न होना अपनी प्यारी सी मुस्कान कभी न खोना सुकून मिलता है देख कर आपकी हंसी को मुझे मौत भी आ जाये तो भी न रोना।

 

ee pyaaree see muskaan kabhee na khona sukoon

milata hai dekh kar aapakee hansee ko mujhe maut

bhee aa jaaye to bhee na rona.

 

35.जो आपने न लिया हो, ऐसा कोई इम्तिहान न रहा, इंसान आखिर मोहब्बत में इंसान न रहा, #है कोई बस्ती, जहां से न उठा हो# ज़नाज़ा दीवाने का, आशिक की कुर्बत से महरूम कोई कब्रिस्तान न रहा।hindi shayari

 

meree har khata pe naaraaj na hona apanjo aapane na liya ho, aisa

koee imtihaan na raha, insaan aakhir mohabbat mein insaan na raha,

#hai koee bastee, jahaan se na utha ho# zanaaza

deevaane ka, aashik kee kurbat se maharoom koee kabristaan na raha.

 

36.मैंने खुदा से एक दुआ मांगी, दुआ में अपनी मौत मांगी, खुदा ने कहा मौत तो तुझे दे दूँ, #पर उसका क्या जिसने हर दुआ में तेरी जिंदगी मांगी।mohabbat shayari

 

mainne khuda se ek dua maangee, dua mein apanee

maut maangee, khuda ne kaha maut to tujhe de doon,

#par usaka kya jisane har dua mein teree jindagee maangee.

mohabbat shayari मौत के बाद याद आ रहा है कोई, मिटटी मेरी कब्र से

 

mohabbat shayari मौत के बाद याद आ रहा है कोई, मिटटी मेरी कब्र से
mohabbat shayari मौत के बाद याद आ रहा है कोई, मिटटी मेरी कब्र से

37.मौत के बाद याद आ रहा है कोई, मिटटी मेरी कब्र से उठ रहा है कोई, ऐ खुदा दो पल की मोहलत और दे दे, उदास मेरी कबर से जा रहा है कोई।

 

maut ke baad yaad aa raha hai koee, mitatee meree

kabr se uth raha hai koee, ai khuda do pal kee mohalat

aur de de, udaas meree kabar se ja raha hai koee.hindi shayari

38.ऐ मौत, मैं तुझे गले लगाना चाहता हूँ, कितनी वफ़ा है तुझ में यह आज़माना चाहता हूँ, रुलाया है बहुत दुनिया में लोगो ने मुझे, मिले जो तेरा साथ तो मैं लोगो को रुलाना चाहता हूँl

 

ai maut, main tujhe gale lagaana chaahata hoon, kitanee vafa hai

tujh mein yah aazamaana chaahata hoon, rulaaya hai bahut duniya

mein logo ne mujhe, mile jo tera saath to main logo ko rulaana chaahata hoonl mohabbat shayari

39.आता है कौन कौन तेरे ग़म को बांटने, तू अपनी मौत की अफवाह उड़ा के देख।

 

aata hai kaun kaun tere gam ko baantane, too apanee maut kee aphavaah uda ke dekh.

40.ऐ मौत आ कर हमको खामोश तो कर गयी तू, मगर सदियों दिलों के अंदर हम गूंजते रहेंगे।

 

ai maut aa kar hamako khaamosh to kar gayee too,

magar sadiyon dilon ke andar ham goonjate rahenge.

41.इश्क कहता है मुझे एक बार करके देख, तुझे मौत से न मिला दिया तो कहना।

 

ishk kahata hai mujhe ek baar karake dekh, tujhe maut se na mila diya to kahana.

hindi shayari कितने टूटे , कितनों का मन हार गया रोटी के आगे

 

42.कितने टूटे , कितनों का मन हार गया रोटी के आगे हर दर्शन हार गया,

#ढूँढ रहा है रद्दी में क़िस्मत# अपनी खेल-खिलौनों वाला बचपन हार गया,
#ये है जज़्बाती रिश्तों का देश, यहाँ विरहन के आँसू से सावन हार गया,

 

#मन को ही सुंदर करने की #कोशिश कर अब तू रोज़ बदल कर दर्पन हार गया,
#ताक़त के सँग नेक #इरादे भी रखना वर्ना ऐसा क्या था रावन हार गया।hindi shayari

 

kitane toote , kitanon ka man haar gaya rotee ke aage har darshan haar gaya,

dhoondh raha hai raddee mein qismat apanee khel-khilaunon vaala bachapan haar gaya,mohabbat shayari

ye hai jazbaatee rishton ka desh, yahaan virahan ke aansoo se saavan haar gaya,

man ko hee sundar karane kee koshish kar ab too roz badal kar darpan haar gaya,

taaqat ke sang nek iraade bhee rakhana varna aisa kya tha raavan haar gaya.

 

hindi shayariखेत सारे छिन गए घर – बार छोटा रह गया

43खेत सारे छिन गए घर – बार छोटा रह गया गाँव मेरा शहर का बस इक मुहल्ला रह गया,

 

सावधानी है बहुत ,खुलकर कोई मिलता नहीं आदमी पर आदमी का ये भरोसा रह गया,

प्रेम ने तोड़ीं हमेशा जाति – मज़हब की हदें पर ज़माना आज तक इनमें ही उलझा रह गया,

 

बेशक़ीमत चीज़ तो गहराइयों में थी छिपी डर गया जो,वो किनारे पर ही बैठा रह गया,

 

जिससे अपनी ख़ुद की रखवाली भी हो सकती नहीं घर की रखवाली की ख़ातिर वो ही बूढ़ा रह गया।hindi shayari

 

khet saare chhin gae ghar – baar chhota rah gaya

gaanv mera shahar ka bas ik muhalla rah gaya,

saavadhaanee hai bahut ,khulakar koee milata nahin

aadamee par aadamee ka ye bharosa rah gaya,mohabbat shayari

prem ne todeen hamesha jaati – mazahab kee haden

par zamaana aaj tak inamen hee ulajha rah gaya,

beshaqeemat cheez to gaharaiyon mein thee chhipee

dar gaya jo,vo kinaare par hee baitha rah gaya,

jisase apanee khud kee rakhavaalee bhee ho sakatee

nahin ghar kee rakhavaalee kee khaatir vo hee boodha rah gaya.

 

Shayariमान लिया वो ही जो दर्पन कहता है

Shayariमान लिया वो ही जो दर्पन कहता है
Shayariमान लिया वो ही जो दर्पन कहता है

44.मान लिया वो ही जो दर्पन कहता है वर्ना अपना चेहरा किसने देखा है, चार मुलाक़ातों में लगता है ऐसाजैसे तुमसे सौ जन्मों का नाता है,

 

होड़ लगी है सबसे आगे रहने की बच्चों पर ये बोझ ज़रा कुछ ज़्यादा है, देखो तो दौलत ही सुख है,सब कुछ है सोचो तो ये सब नज़रों का धोखा है,
सबकी अपनी-अपनी एक लड़ाई है साथ नहीं कोई, हर शख्स अकेला है।

 

maan liya vo hee jo darpan kahata hai varna apana chehara kisane

dekha hai, chaar mulaaqaaton mein lagata hai

aisaajaise tumase sau janmon ka naata hai,hindi shayari

hod lagee hai sabase aage rahane kee bachchon par ye bojh zara

kuchh zyaada hai, dekho to daulat hee sukh hai,sab

kuchh hai socho to ye sab nazaron ka dhokha hai,

sabakee apanee-apanee ek ladaee hai saath nahin koee, har shakhs akela hai.mohabbat shayari

 

45.नूर से आज चाँद भी शरमाया है,आपकी दोस्ती ने ऐसा गजब ढाया है, ख़ुदा से क्या मांगू आपको,ख़ुदा ने भी खुद आप जैसा दोस्त मंगाया है। सुप्रभात!

 

noor se aaj chaand bhee sharamaaya hai,aapakee

dostee ne aisa gajab dhaaya hai, khuda se kya

maangoo aapako,khuda ne bhee khud aap jaisa dost

mangaaya hai. suprabhaat!

 

इश्क की हमारे बस इतनी सी कहानी है hindi shayari

46.इश्क की हमारे बस इतनी सी कहानी है, तुम बिछड गए हम बिख़र गए,तुम मिले नहीं और हम किसी और के हुए नही।

 

ishk kee hamaare bas itanee see kahaanee hai, tum

bichhad gae ham bikhar gae,tum mile nahin aur ham kisee aur ke hue nahee.

 

47.ज्यादा कुछ तो नहीं जानता मैं मोहब्बत के बारे में, बस तुम सामने आते हो तो तलाश खत्म हो जाती है।hindi shayari

 

jyaada kuchh to nahin jaanata main mohabbat ke

baare mein, bas tum saamane aate ho to talaash khatm ho jaatee hai.

48.मुद्दतों से मैं जुदा हूं बूंद से सागर बना हूं, मुझमें अपना अक्स न देखो मैं तो टूटा आईना हूं।

 

muddaton se main juda hoon boond se saagar bana

hoon, mujhamen apana aks na dekho main to toota aaeena hoon.

 

49.न मेरी कोई मंज़िल है न किनारा, तन्हाई मेरी महफिल और यादें मेरा सहारा।

na meree koee manzil hai na kinaara, tanhaee meree

mahaphil aur yaaden mera sahaara.mohabbat shayari

 

50.तुमसे बिछड़कर कर कुछ यूं वक्त गुजारा, कभी जिंदगी को तरसे कभी मौत को पुकारा।

tumase bichhadakar kar kuchh yoon vakt gujaara,

kabhee jindagee ko tarase kabhee maut ko pukaara.

 

51.बिछड़ कर आप से हमको ख़ुशी अच्छी नहीं लगती, #लबों पर ये# बनावट की हँसी

#अच्छी नहीं लगती, कभी तो खूब लगती थी मगर ये सोचते हैं हम, #कि मुझको क्यों मेरी# ये ज़िन्दगी अच्छी नहीं लगती।

bichhad kar aap se hamako khushee achchhee nahin lagatee, labon

par ye banaavat kee hansee achchhee nahin lagatee, kabhee to

khoob lagatee thee magar ye sochate hain ham, ki mujhako kyon meree ye zindagee achchhee nahin lagatee.

 

hindi shayari,तेरे सिवा कोई मेरे जज़्बात में नहीं,

52.तेरे सिवा कोई मेरे जज़्बात में नहीं, आँखों में वो नमी है जो बरसात में नहीं, #पाने

की कोशिश तुझे #बहुत की मगर, तू एक #लकीर है जो मेरे# हाथ में नहीं।

tere siva koee mere jazbaat mein nahin, aankhon mein vo namee hai

jo barasaat mein nahin, #paane kee koshish tujhe #bahut kee

magar, too ek #lakeer hai jo mere# haath mein nahin.

 

53.मुझे फिर तबाह कर मुझे फिर रुला जा सितम करने वाले कहीं से तू आजा, आँखों

में तेरी ही सूरत बसी है तेरी ही तरह तेरा ग़म भी हंसीं है।

 

mujhe phir tabaah kar mujhe phir rula ja sitam karane vaale kaheen

se too aaja, aankhon mein teree hee soorat basee hai teree hee tarah tera gam bhee hanseen hai.hindi shayari

 

54.हँसी आपकी कोई चुरा ना पाये आपको कभी कोई रुला ना पाये, खुशियों का दीप

ऐसे जले ज़िंदगी में कि कोई तूफ़ान भी उसे बुझा ना पाये।

hansee aapakee koee chura na paaye aapako kabhee koee rula na

paaye, khushiyon ka deep aise jale zindagee mein ki koee toofaan bhee use bujha na paaye.mohabbat shayari

 

55.आज मेरे दिल पर कोई आहट हो रही है किसी का हाथ थामने की चाहत हो रही है,

मौजों से खेलना तो सागर का शौक है लगती है कितनी चोट किनारों से पूछिये।

 

aaj mere dil par koee aahat ho rahee hai kisee ka haath thaamane

kee chaahat ho rahee hai, maujon se khelana to saagar ka shauk hai lagatee hai kitanee chot kinaaron se poochhiye.

shayari,गुजरे हुए लम्हों में सदियाँ तलाश करता हूँ

 

56.गुजरे हुए लम्हों में सदियाँ तलाश करता हूँ, प्यास गहरी है कि नदियाँ तलाश

करता हूँ, #यहाँ सब लोग गिनाते है #खूबियां अपनी, मैं अपने-आप में कमियाँ तलाश करता हूँ।mohabbat shayari

 

57.उनकी यादो को प्यार करते है लाखो जनम उन पर निसार करते है #अगर राह में#

मिले वो आपसे तो# कहना उनसे हम आज भी उनका इंतज़ार करते है।

 

58ज़िंदा थे जिसकी आस पर वो भी रुला गया #बंधन वफ़ा के तोड़ के #सारे चला

गया, खुद ही# तो की थी# उसने मुहब्बत की इब्तदा #हाथों में हाथ दे के# खुद ही

छुड़ा गया, कर दी# जिसके लिए हमने तबाह #ज़िन्दगी उल्टा वो हमे बेवफा का इल्जाम दे गया।hindi shayari

 

59.टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,

न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी।

 

60.दर्द की दास्ताँ अभी बाकी है, महोबत का इम्तेहान अभी बाकी है, दिल करे तो फिर

से वफ़ा करने आ जाना, दिल ही तो टुटा है, जान अभी बाकी है I

1.hindi shayari dosti love|shayari Dosti ki yaad:dosti ki 

2.good night love shayari|good night romantic images for lover good 

3.sad shayari two lines|sad shayari on Zindagi in Hindi sad shayari for love 

Hindi shayari bewafa

Please follow and like us:
shayari|mohabbat shayari|hindi shayari:dill bar 💘 1

Leave a Comment