jhoot mat bolo shayari झूठ मत बोलो शायरी

jhoot mat bolo shayari झूठ मत बोलो यह एक ऐसा तर्क है जो हमेशा सत्य की महकमा करता है
झूठ बोलना एक अच्छी आदत नहीं है क्योंकि यह हमारे और दूसरों के बीच गुड़बद कर सकता है
झूठ से बचने का एक अच्छा तरीका है झूठ मत बोलो शायरी का आनंद लेना
इस शैली में हम सत्य की महकमा के साथ साथ जीवन की हर स्थिति को भी सुलझा सकते हैं

हम jhoot mat bolo shayari के कुछ रूपों को जानेंगे जो हमें सत्य की
ओर बढ़ने के लिए प्रेरित करेंगे चलिए, इस सफलता की
ओर एक कदम बढ़ाते हैं और झूठ को अच्छाई के सामर्थ्य में परिणामी बनाने का सफर शुरू करते हैं

Jab dil ho jhuthon mein bhara
Shayari mein shachai ka izhaar kara
yeh dua hai hamari
Hakikat ka izhar karo ban jao humsafar hamari

jhoot mat bolo shayari2
new jhoot mat bolo shayari

Zuban se na nikle kabhi bhi dhoka
Sachai se judi ho har ek roka
Jhuton ka na karo istemaal
Sachai mein hi hai pyaar ka kamal

jhoot mat bolo shayari3
jhoot mat bolo shayari3

Rang birangi batein na sahi
Par dil se nikli ho sachai ki leharahi
Jhoot se door raho ban jao sada sach
Khushiyaan milein mile sukoon ka raaz

jhoot mat bolo shayari4
jhoot mat bolo shayari hindi

Chandni raat mein bhi sachai chamakti hai
Jhoot se door ho sachai mein damakti hai
jhoot mat bolo yeh hai mera iraada
Sachai ka saath do mile khushiyaan beshumaar

latest jhoot mat bolo shayari

झूठों की बस बातें हैं ये, दिल को बहुत बहलाते हैं
क्योंकि सच से ही रिश्तों को बनाते हैं

jhoot mat bolo shayari5
jhoot mat bolo shayari in hindi

जुबान से निकले झूठ बोलकर, दिल को तोड़ा ना करो
सच्चे रिश्ते बनाओ फूलों की तरह खिलाओ

jhoot mat bolo shayari6
jhoot mat bolo shyari

छुपा कर रखो ना दिल की बातें झूठों के पर्दे में,
झूठ मत बोलो, रिश्तों को मजबूती से बनाओ।

jhoot mat bolo shayari7
jhoot shayari

झूठ से बचो सच्चे दिल से बातें करो,
रिश्तों को मिठास से भरो झूठों से दूरी बनाओ

jhoot mat bolo shayari8
jhoot mat bolo shayari झूठ मत बोलो शायरी

सच्चे दिल से बोलो, झूठ से बचो
खुदा से डरो

jhoot mat bolo shayari9

झूठों की दुनिया में ना घिरो सच से रूबरू हो जाओ
दिल से बोलो और भी प्यार से

jhoot mat bolo shayari10

झूठों की बस्ती में मत घुसो, सच की राहों में चलो
झूठ मत बोलो, इतना तो खुदा से डरो

jhoot mat bolo shayari11

सच्चे दिल से बोलो, झूठ से बचो
झूठ मत बोलो, खुदा से मोहब्बत करो

jhoot mat bolo shayari12

झूठों की दुनिया से बाहर निकलो सच की ऊँचाई पर चढ़ो
झूठ मत बोलो खुद को सच्चा बना लो

jhoot mat bolo shayari13

सच्चा प्यार करो झूठों को ना दो मौका
दिल से बोलो झूठ मत बोलो सच का साथ बनाओ

jhoot mat bolo shayari14

झूठी मुस्कान से ना दो धोखा दिल को बहुत बहलाती है
सच्चे दिल से हंसो झूठ मत बोलो, रिश्तों को खुदा से जोड़ो

 

झूठी बातों से ना करो प्यार सच्चे दिल से बोलो
झूठ मत बोलो रिश्तों में सच्चाई की बात करो

family matlabi rishte quotes

झूठों की दुनिया से बाहर निकलो सच में ही बहुत कुछ है
झूठ मत बोलो दिल से सच का इज़हार करो

 

झूठ से बनी हर कहानी दिल को बहला सकती है
सच में ही बसती है जगह झूठ मत बोलो दोस्तों से प्यार करो

jalne wali shayari

झूठ का रंग ना दो जिन्दगी को, सच के साथ रंग भरो
झूठ मत बोलो खुदा से मोहब्बत बढ़ाओ

झूठ मत बोलो शायरी

सच्चे दिल से बोलो झूठों को ना बहलाओ
रिश्तों को मजबूती से बनाओ झूठ मत बोलो

 

झूठ के पर्दे में ना छुपो सच्चे दिल से बातें करो
झूठ मत बोलो रिश्तों को बनाओ मिट्टी से सजीव

 

सच्चे दिल से बोलो झूठ से बचो
झूठ मत बोलोरिश्तों को प्यार से बनाओ

 

झूठों की बस्ती में ना घिरो सच की राहों में चलो
झूठ मत बोलो रिश्तों को मजबूती से बनाओ

 

सच्चे दिल से बोलो झूठ से बचो
झूठ मत बोलो खुदा से मोहब्बत करो

 

झूठों की दुनिया में ना घुटने फेलाओ सच से जुड़ा रहो
झूठ मत बोलो रिश्तों को अपनी मिसाल बनाओ

 

सच्चे दिल से बोलो झूठों को ना बहलाओ
रिश्तों को मजबूती से बनाओ झूठ मत बोलो

 

झूठ की दुनिया से निकलो, सच के साथ चलो,
झूठ मत बोलो रिश्तों को अपनी मिसाल बनाओ

 

सच्चा प्यार करो, झूठों का कोई स्थान नहीं
झूठ मत बोलो रिश्तों को सच्चाई से सजाओ

 

झूठी मुस्कान से ना दो धोखा, दिल को बहुत बहलाती है,
सच्चे दिल से हंसो झूठ मत बोलो, रिश्तों को खुदा से जोड़ो

 

झूठ से बनी हर कहानी, दिल को बहला सकती है
सच में ही बसती है जगह झूठ मत बोलो दोस्तों से प्यार करो

 

झूठ का रंग ना दो जिन्दगी को, सच के साथ रंग भरो
झूठ मत बोलो खुदा से मोहब्बत बढ़ाओ

 

सच्चे दिल से बोलो झूठों को ना बहलाओ
रिश्तों को मजबूती से बनाओ झूठ मत बोलो

reale tate post

Shayari on not getting salary

16 thoughts on “jhoot mat bolo shayari झूठ मत बोलो शायरी”

  1. Thanks I have recently been looking for info about this subject for a while and yours is the greatest I have discovered so far However what in regards to the bottom line Are you certain in regards to the supply

    Reply
  2. helloI like your writing very so much proportion we keep up a correspondence extra approximately your post on AOL I need an expert in this space to unravel my problem May be that is you Taking a look forward to see you

    Reply
  3. From start to finish, this blog post had us hooked. The content was insightful, entertaining, and had us feeling grateful for all the amazing resources out there. Keep up the great work!

    Reply
  4. Somebody essentially lend a hand to make significantly articles I’d state. That is the very first time I frequented your website page and up to now? I surprised with the research you made to make this actual submit amazing. Wonderful task!

    Reply
  5. obviously like your website but you need to test the spelling on quite a few of your posts Several of them are rife with spelling problems and I to find it very troublesome to inform the reality on the other hand Ill certainly come back again

    Reply
  6. helloI really like your writing so a lot share we keep up a correspondence extra approximately your post on AOL I need an expert in this house to unravel my problem May be that is you Taking a look ahead to see you

    Reply

Leave a Comment