shayari love,zindagi shayari,Mohabbat Shayari:new

zindagi shayari

shayari love,zindagi shayari,Mohabbat Shayari: 1.इश्क लिखना चाहा तो कलम भी टूट गयी,#ये कहकर अगर लिखने से इश्क मिलता, तो आज इश्क से जुदा होकर कोई टूटता नहीं। 2.तू हजार बार रुठेगी फिर भी तुझे मना लूँगा,#तुझसे प्यार किया हे कोई गुनाह नहीं, #जो तुझसे दूर होकर खुद को सजा दूँगा। 3.बारिश‬ के ‪बाद‬ तार पर ‪टंगी‬ ‪आख़री‬ ‪‎बूंद‬ से पूछना, क्या‬ होता है अकेलापन। 4.धोखा देने के लिए शुक्रिया, तुम …

Read moreshayari love,zindagi shayari,Mohabbat Shayari:new